Chanakya Niti: हार को जीत में बदल सकता है आपका एक निर्णय, हर कदम पर मिल सकती है सफलता

अपने जीवन में जय और पराजय सिर्फ मन का भाव हैं. चाणक्य नीति में यह भी कहते हैं.
  
chankya niti

Aapni News, Lifestyle
Chanakya Niti: जीवन में जब दुखों का प्रवेश होता है तो आचार्य चाणक्य नीति इन बाधाओं से निकलने का रास्ता भी दिखाती है. चाणक्य यह कहते हैं कि लक्ष्य की ओर बढ़ते समय बाधाओं से घबराना भी नहीं चाहिए. ये अड़चने ही हमें अपनी शक्ति का एहसास भी कराती है और परेशानियों से निपटने की क्षमता को भी बढ़ाती है. सफलता तभी हासिल होती है जब वो हमारे सपने बहानों से बड़े होते हैं. चाणक्य ने उस एक बात का मोल बताया है.

Also Read: Chanakya Niti: जिंदगी में भुलकर भी किसी को न बताएं ये 5 बातें, नहीं तो हो सकती हैं परेशानी

जो हार को भी जीत में भी बदल सकती है. जरुरत है तो बस उसे अपनाने की. चाणक्य ने इस कथन के जरिए यह भी समझाया गया है कि व्यक्ति को अपने मन को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी होता है. युद्ध के क्षेत्र में हार का सामना करना पड़े तो व्यक्ति दोबारा चुनौती स्वीकार कर उस असफलता को सफलता में भी बदल देता है लेकिन अगर मन से हार गए तो वह कभी जीत नहीं सकता. इस उतार चढ़ाव भरे जीवन में जब व्यक्ति अपने अपने लक्ष्य की ओर बढ़ता है तो रास्ते में उसे कई चैलेंज भी मिलते हैं इन परेशानियों से घबराकर जो पहले ही हार मान लेते हैं वह कभी बुलंदियों को नहीं छू सकते हैं.

Also Read: Chanakya Niti: ऐसी स्त्री की आंखों का तारा नहीं, कांटा होता हैं उनका पति

जीवन में जय और पराजय सिर्फ मन का भाव हैं. चाणक्य नीति में यह कहते हैं कि जब परेशानियों का दौर आए तो और हार नजर भी आ रही हो तो अपने मन पर काबू में रखें और निरंतर अपने मंजिल की ओर बढ़ते रहें. जब व्यक्ति मंजिल के लिए जूझता है, बार-बार गिर कर खड़े होता है तो इससे उसका आत्मविश्वास कई गुना बढ़ जाता है. यही वह समय है जब मन से हार न माने और आगे बढ़ने का निर्णय भी लें. आपकी मेहनत और मंजिल को पाने की लगन हार को भी जीत में बदल देती है और इसके बाद जब सफलता भी मिलती है तो उसकी खुशी कई गुना होती है. जीत और हार कोई तय नहीं कर सकता ये आपके ऊपर निर्भर करता है कि कब सही निर्णय लेना है.

 

Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।