फरीदाबाद: शार्क टैंक इंडिया सीजन 2 के प्रतिभागियों ने मानव रचना के छात्रों को ज़िंग टॉक्स के दौरान दिए टिप्स

 शार्क टैंक इंडिया सीजन 2 के प्रतियोगी विंस्टन इलेक्ट्रॉनिक्स के संस्थापक हिमांशु अदलखा और उनके बिजनेस पार्टनर तनिष्क अदलखा प्रमुख वक्ता के तौर पर मौजूद थे
  
शार्क टैंक इंडिया सीजन 2

Business

फरीदाबाद, 18 जनवरी। 

मानव रचना न्यूजेन आईईडीसी की ओर से नेशनल स्टार्टअप डे पर जिंग टॉक्स सीज़न 2 का आयोजन किया गया। इस मौके पर शार्क टैंक इंडिया सीजन 2 के प्रतियोगी विंस्टन इलेक्ट्रॉनिक्स के संस्थापक हिमांशु अदलखा और उनके बिजनेस पार्टनर तनिष्क अदलखा प्रमुख वक्ता के तौर पर मौजूद थे। उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत की और शार्क टैंक इंडिया के अपने अनुभव को साझा किया। उन्होंने अपने रास्ते में आने वाले उतार-चढ़ाव के बारे में विस्तार से बताया और शार्क्स अनुपम मित्तल और विनीता सिंह से फंडिंग प्राप्त करने की सफलता तक का अनुभव बताया।

हिमांशु अदलखा और निकिता अदलखा फरीदाबाद स्थित विंस्टन इंडिया के संस्थापक हैं। वे हाल ही में रियलिटी टीवी शो शार्क टैंक इंडिया सीज़न 2 से पर्याप्त धनराशि प्राप्त करने में सफल रहे हैं। सत्र के दौरान मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के डीजी लेफ्टिनेंट जनरल आरके आनंद, एमआर इनोवेशन एंड इंक्यूबेशन सेंटर के निदेशक डॉ. अमित सेठ व मानव रचना न्यूजेन आईईडीसी की मुख्य समन्वयक डॉ. मोनिका गोयल उपस्थित थीं।

लेफ्टिनेंट जनरल आर के आनंद ने भारत सरकार के सभी मंत्रालयों में स्टार्टअप और नवाचार के लिए उपलब्ध विभिन्न सरकारी सहायता विकल्पों के बारे में बात की। डॉ. सेठ ने मानव रचना में उत्साहजनक स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र, पेशेवर उद्योगपतियों/निवेशकों और उद्यमियों से परामर्श और मार्गदर्शन के महत्व और ऐसे प्लेटफार्मों के माध्यम से एक मजबूत नेटवर्क बनाने की आवश्यकता को साझा किया।

हिमांशु अदलखा ने शार्क के सामने विचार प्रस्तुत करने के लिए एक प्रत्याशी के चयन से पहले होने वाले प्रोसेस को भी साझा किया। शार्क के सामने पिच करने से पहले, ग्रिलिंग सत्र में तीन क्वालीफाइंग राउंड होते हैं, जिसके बाद उद्यमी शार्क के सामने पिच कर सकते हैं। 

Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।