RBI ने लिया बड़ा फैसला: इस बैंक के लेन-देन पर लगाएं रोक, अब ग्राहकों पर क्या होगा असर?

  
Business

Business

भारतीय रिजर्व बैंक: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा देश के सभी सरकारी, निजी और सहकारी बैंकों के लिए दिशानिर्देश जारी किए जाते हैं। अगर आपने भी देश के किसी बैंक में खाता खोला है तो आरबीआई के नए नियमों को जरूर जान लें। रिजर्व बैंक ने अब तत्काल प्रभाव से बैंक के लेन-देन पर रोक लगा दी है, यानी आप कोई भी लेन-देन नहीं कर पाएंगे।
 

इसे क्यों रोका गया?

भारतीय रिजर्व बैंक ने तत्काल प्रभाव से उदारीकृत प्रेषण योजना (एलआरएस) के तहत एसबीएम बैंक (इंडिया) लिमिटेड को प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया है। आरबीआई ने कहा है कि यह प्रतिबंध अगली सूचना तक प्रभावी रहेगा।

एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई

बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 35ए और 36(1)(ए) के तहत, आरबीआई ने एसबीएम बैंक को एलआरएस लेनदेन रोकने का निर्देश दिया है, जिसका बैंक को पालन करना आवश्यक है। इसके साथ ही आरबीआई ने एक प्रेस रिलीज भी जारी की है।

काफी चिंताओं के बाद यह कदम उठाया गया

रिजर्व बैंक ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि आरबीआई ने बैंकिंग अधिनियम के तहत अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए एसबीएम बैंक के परिचालन को निलंबित करने का फैसला किया है। काफी मशक्कत के बाद यह कार्रवाई की गई है।

यह एक वित्तीय सेवा समूह है

आपको बता दें कि एसबीएम बैंक मॉरीशस में स्थित एसबीएम होल्डिंग्स की सहायक कंपनी है। SBM Group एक वित्तीय सेवा समूह है, जो जमा, ऋण, व्यवसाय वित्त और कार्ड सहित सेवाएँ प्रदान करता है।

3 करोड़ का जुर्माना लगाया गया

एसबीएम बैंक ने आरबीआई से लाइसेंस प्राप्त करने के बाद 1 दिसंबर 2018 को बैंकिंग सुविधाएं शुरू कीं। वर्तमान में देश भर में कुल 11 शाखाएं हैं। साल 2019 में नियामकीय मानदंडों का पालन नहीं करने पर बैंक पर 3 करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था.

गौरतलब है कि केंद्रीय बैंक बैंकों पर लगातार नजर रखता है। अगर बैंक में कोई गलती पकड़ी जाती है तो केंद्रीय बैंक द्वारा इस तरह के कठोर कदम उठाए जाते हैं। हालांकि, ग्राहकों पर इसका बहुत कम असर पड़ा है।

Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।