Home न्यूज़ हरियाणा बेरोजगारी के बाद मंहगाई में भी हरियाणा बना नंबर वन

बेरोजगारी के बाद मंहगाई में भी हरियाणा बना नंबर वन

0

Aapni News, Chandigarh

जब से देश में कोरोना काल शुरू हुआ उसके बाद से आम आदमी मंहगाई की मार झेल रहा है। 2021 के अंत तक देश की खुदरा महंगाई दर 5.59% थी। यह 6 महीनों का उच्च स्तर है। इससे पहले जुलाई 2021 में भी महंगाई दर यही थी। बात अगर महगाई की करें तो हरियाणा प्रदेश नंबर वन बन गया है। पिछले दिनों जारी आंकड़ो के अनुसार बेरोजगारी के मामले में भी हरियाणा शीर्ष पर है। लगातार रद्द हो भर्तियों के कारण प्रदेश में बेरोजगारी बढी है।  दिसंबर के महीने में बेरोजगारी दर 34.1 प्रतिशत रही है।

यह भी पढेंः हरियाणा सरकार का ऐलान, प्रदेशभर के नेशनल यूथ अवार्डी को खेल विभाग में मिलेगा रोजगार

दिसंबर की महंगाई दर 6.64% थी। नवंबर में हरियाणा 6.04% महंगाई दर के साथ पूरे देश में छठे स्थान पर था। यह भी देखने को मिल रहा है कि हरियाणा के शहरों से अधिक ग्रामीण क्षेत्रों में महंगाई दर ज्यादा है। अब महंगाई दर में भी यह शीर्ष पर है जो एक चिंता का विषय है। दिसंबर माह में ग्रामीण क्षेत्र की महंगाई दर 7.69% थी जबकि शहरी क्षेत्रों में महंगाई दर 5.53%  रही। पिछले साल के मुकाबले दूध, फल, चीनी, मिठाई, खाद्य तेल शिक्षा इत्यादि सब महंगे हो गए हैं।

यह भी पढेंः हरियाणा के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी: सरकार कर रही है एक समान प्रमोशन पॉलिसी पर विचार

बात अगर बेरोजगारी की करें तो प्रदेश में लाखों युवा नौकरी का इंतजार कर रहे है। युवा सरकारी नौकरियो की तैयारी कर रहे है। बार-बार भर्तियां रद्द हो रही है और सरकार के दावों की लगातार पोल खुल रही है। नौकरियो में प्रतिदिन भ्रष्टाचार की खबरें सामने आ रही है।

यह भी पढेंः नरमा, ग्वार व सरसों के भाव में तेजी, देखिए मुख्य फसलों के भाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

नरमा के भाव में तेजी, जानिए नरमा, ग्वार, बाजरा, सरसों, मोठ के भाव में तेजी मंदी की रिपोर्ट

Aapni News, New Delhi हरियाणा की अनाज मंडियों में आज के भाव ऐलनाबाद अनाज मंडी बोली भाव दिन…