बिहार: गया में आरपीएफ ने फर्जी रेलवे जॉब रैकेट का भंडाफोड़ किया, दो गिरफ्तार

  
Crime
रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने फर्जी रेलवे जॉब का रैकेट चलाने के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपी युवकों की पहचान गया जिले के वजीरगंज थाना अंतर्गत तिलौरा गांव निवासी कुंदन कुमार और सोनू कुमार के रूप में हुई है। 

आरपीएफ के मुताबिक दोनों युवकों को शनिवार शाम को गिरफ्तार कर लिया गया। वे सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम का उल्लंघन करते हुए व्हाट्सएप और टेलीग्राम जैसे कई वेबसाइटों और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सरकारी नौकरियों के लिए नकली विज्ञापन पोस्ट करके अमेरिकी डॉलर में पैसा कमाते थे।
आरपीएफ गया चौकी के प्रभारी अजय कुमार ने कहा, 'हमें आरपीएफ जबलपुर के आईटी सेल से जानकारी मिली कि 19800 पदों के लिए 'आरपीएफ कांस्टेबल नई भारती-2023' नाम का एक फर्जी विज्ञापन कई वेबसाइटों और व्हाट्सएप और टेलीग्राम सहित अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट किया गया है। जबलपुर आईटी सेल ने एक सेलफोन नंबर भी उपलब्ध कराया।"

कुमार ने कहा, "जिला पुलिस के साइबर सेल की मदद से, वजीरगंज थाना क्षेत्र के तिलोरा गांव में सेलफोन नंबर की टावर लोकेशन चालू पाई गई। सत्यापन के बाद आरपीएफ की एक टीम गठित की गई। टीम ने तिलौरा में छापेमारी कर एक कमरे में लैपटॉप पर काम कर रहे दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया। टीम ने उनके लैपटॉप और सेलफोन भी जब्त कर लिए।"

वजीरगंज के एसएचओ रमीकबाल यादव ने रविवार को कहा, “दोनों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि इस रैकेट से और लोग जुड़े हैं या नहीं। इसके अलावा, जब्त किए गए उपकरणों की वैज्ञानिक जांच साइबर सेल के विशेषज्ञों द्वारा की जाएगी।”

पूछताछ के दौरान युवकों ने कबूल किया कि वे 2019 से इस तरह काम कर रहे थे। अपनी वेबसाइट के माध्यम से उन्होंने विभिन्न प्लेटफार्मों पर पोस्ट किए गए विज्ञापनों पर दर्शकों की संख्या बढ़ाने और अमेरिकी डॉलर में कमाई करने का भी काम किया। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए अलग-अलग जगहों के 972 छात्रों को अपने नेटवर्क से भी जोड़ा था।

दोनों ने इस रणनीति पर काम किया कि पोस्ट किए गए नकली विज्ञापनों को ज्यादा से ज्यादा व्यूज मिले। बदले में उन्होंने यूपीआई सहित भुगतान के विभिन्न तरीकों के माध्यम से आवेदकों द्वारा एकत्र किए गए विचारों और नकली लिंक पर भुगतान किए गए शुल्क पर कमीशन अर्जित किया।
Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।