यूपीः 23 जनवरी को अदालत में पेश करने का आदेश, दुष्कर्म मामले में बीजेपी विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

  
Adalat

Aanpi News, Crime

सोनभद्र की एक अदालत ने नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के आठ साल पुराने एक मामले में जिले के दुद्धी क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक रामदुलार के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है.

  

  • सोनभद्र की एक अदालत ने नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के आठ साल पुराने एक मामले में जिले के दुद्धी क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक रामदुलार के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. अपर सत्र न्यायाधीश (द्वितीय) राहुल मिश्रा की अदालत ने इस मामले में कई बार तलब किए जाने के बावजूद हाजिर नहीं होने पर बृहस्पतिवार को कड़ा रुख अपनाते हुए विधायक को गिरफ्तार कर 23 जनवरी को अदालत में पेश करने के आदेश दिए हैं.

Also Read: UGC Order: अब कॉलेज में अनिवार्य हुई साइबर सुरक्षा की पढ़ाई, देखिये पाठ्यक्रम

  • सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता सत्य प्रकाश त्रिपाठी ने शुक्रवार को यहां बताया कि म्योरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव के व्यक्ति ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि चार नवंबर 2014 की शाम तत्कालीन ग्राम प्रधान के पति और वर्तमान में दुद्धी क्षेत्र से भाजपा विधायक रामदुलार ने उसकी नाबालिग बहन को डरा-धमका कर कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया है. उन्होंने बताया कि शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज किया और पर्याप्त सुबूत मिलने पर उसके खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया.

Also Read: औरत के मामले में बड़बिराना गांव के युवक को नग्न करके बेरहमी से पीटा, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

  • सत्य प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि अदालत ने आरोपी रामदुलार को कई बार समन भेजा लेकिन वह हाजिर नहीं हुए. उन्होंने बताया, रामदुलार पिछली 10 और 17 जनवरी को बीमारी का हवाला देकर अदालत में हाजिर नहीं हुए और आज भी यही बात कह कर हाजिरी माफी की अर्जी दी, मगर अदालत ने उसे खारिज कर दिया. उन्होंने बताया कि अदालत ने कड़ा रुख अपनाते हुए विधायक रामदुलार के विरुद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया और जिला पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए कि वह विधायक को गिरफ्तार कर आगामी 23 जनवरी को अदालत में पेश करें.

Also Read: जानें कैसे बनते हैं एसडीएम और क्या होती है इनकी पावर

Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।