सरकार ने हरियाणा के पटवारियों की 10 साल पुरानी मांग को माना, अब इतना वेतन बढ़ा

  
patwari news
Aapni News, Chandigarh

हरियाणा के राजस्व विभाग के पटवारियों को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बड़ी राहत दी है। उनकी 10 साल ग्रेड- पे बढ़ाने की मांग को पूरा करते हुए 6,600 रुपए बढ़ा दिया है। अब पटवारियों को 32,100 रुपए दिया जाएगा। इससे पहले उन्हें 25,500 रुपए ग्रेड- पे मिलता था। राज्य के वित्त आयुक्त ने इस आशय का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

Also Read: 56 तबादले झेलने वाले IAS खेमका ने इस विभाग में मांगी नियुक्ति

ग्रेजुएशन कर दी थी योग्यता
2011 से पहले प्रदेश में राजस्व पटवारी की योग्यता 10वीं हुआ करती थी। हरियाणा सरकार ने इस योग्यता को बढ़ाकर स्नातक (ग्रेजुएशन) कर दिया था, लेकिन पटवारियों को पुराना ग्रेड-पे 25,500 रुपए ही दिया जा रहा था। इससे पटवारियों में सरकार के प्रति काफी नाराजगी थी, वह कई सालों से ग्रेड-पे बढ़ाए जाने की मांग कर रहे थे।

Also Read: रोहतक में डाॅक्टर पति ने सोते हुए पत्नी व बच्चों को तेजधार हथियार से काटकर किया सुसाइड

26 दिसंबर को शुरू किया आंदोलन
अपनी मांगों को लेकर पटवारियों ने 26 दिसंबर 2022 को अपना धरना प्रदर्शन शुरू किया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने के आश्वासन के बाद पटवारियों ने अपना धरना समाप्त कर दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा था कि नए साल पर उनका ग्रेड-पे बढ़ा दिया जाएगा। इसके बाद वित्त आयुक्त ने पटवारियों के ग्रेड पे बढ़ाए जाने का नोटिफिकेशन जारी किया है।

अभी ये मांग रह गई अधूरी
पटवारियों की अभी एक मांग अधूरी रह गई है। पटवारियों के अनुसार अभी राज्य में कुल 2500 पटवारी कार्य कर रहे हैं। ऐसे में एक एक पटवारी पर आठ से दस गांव आ रहे है। जिससे उन पर अतिरिक्त बोझ बढ़ रहा है। सरकार ने आश्वासन दिया है कि उनकी इस मांग को भी जल्द पूरा किया जाएगा।

Also Read: श्रृंखला में न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप कर टीम इंडिया बनी वनडे में नंबर वन, बैच में लगे 2 शतक

Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।