BANK CLOSE NEWS 2023: देश का यह चर्चित बैंक होगा बंद, पूरे देश में मचा हाहाकार!

  
Bank Close News

AANPI NEWS: TRENDING NEWS

  •  Bank Close News 2023 :अभी अभी बहुत बड़ी खबर निकलकर आ रहा है भारत देश के जाने माने बैंक को बंद कर दिया गया है पूरे देश में बवाल मचा हुआ है बैंक में लोगों ने हाहाकर मचाया हुआ है जैसा कि आप सभी लोग जानते है हमारे देश में बहुत सारे नए नए बैंक आ रहा है और सभी जनता के साथ धोखेबाजी कर रहे है और इसी को देखते हुए हमारे देश के प्रधानमंत्री और RBI बैंक के तरफ से आई हे बड़ी खबर जितने भी ऐसे बैंक है उन सभी बैंक को बंद कर दिया गया है तो चलिए हमलोग विस्तार से जानते है कि वह कोन कोन सी बैंक हे जिनका लाइसेंस को RBI  ने बंद करने का आदेश दिया  है।

बैंक खाता धारकों के लिए बड़ा झटका अगर आपका भी खाता इस बैंक में है तो आपका पैसा डूब सकता है अभी-अभी रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई ने इस बैंक की मान्यता को रद्द करने का फैसला लिया  है और यह बताया गया है कि करोडो  खाताधारकों का पेसा इस एक बैंक में पड़ा हुआ है तो जल्दी से फटाफट जानते हैं। कौन सा बैंक है अगर आप का भी पैसा इसमें है तो कैसे निकालना होगा।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया आरबीआई के द्वारा अभी-अभी बहुत ही बड़ा फैसला लिया गया है एक बार फिर से इस बैंक का लाइसेंस को रद्द कर दिया गया है यदि आपका भी इस बैंक खाते में अकाउंट खुला हुआ है तो जल्दी से यह काम कर ले नहीं तो आप को भारी नुकसान हो सकता है तो चलिए आगे जानते हैं किस बैंक का लाइसेंस रद्द किया गया है तथा इसके बाद किन-किन लोगों को नुकसान झेलना पड़ सकता है आरबीआई के द्वारा क्या अपडेट जारी किया गया है! संपूर्ण जानकारी जानेंगे इस पोस्ट में तो आगे हमारे साथ सभी लोग बने रहे।

Also Read: सालासर जा रहे फतेहाबाद के 5 दोस्तों की मौत, 4 एक ही गांव के

RBI ने इस  बैंक का लाइसेंस रद्द करने का दिया आदेश ! जानिए आगे क्या होगा ?

  • हाल ही में आरबीआई के द्वारा कुछ दिन पहले एक और बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया गया था और एक बार फिर से एक और को-ऑपरेटिव बैंक को लगा बड़ा झटका!. दरअसल आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने महाराष्ट्र के पुणे के द सेवा विकास को-ऑपरेटिव बैंक लि. (The Seva Vikas Co-operative Bank) का लाइसेंस रद्द कर दिया है. आरबीआई ने कहा है कि बैंक के पास पर्याप्त पूंजी नहीं है और न ही उसके पास आमदनी की संभावनाएं हैं, ऐसे में उसका लाइसेंस रद्द किया जा रहा है।

Also Read: हत्यारे व बलात्कारी बाबा को पैरोल मिलने पर हरियाणा सरकार कटघरे में!, सीएम ने जानें क्या दिया जवाब

बैंक में खाता धारकों के 5 लाख रुपये तक सुरक्षित बताया गया!

  • आपको यह जानकर बेहद खुशी होगी कि आपकी जानकारी के लिए बता दें कि DICGC इंश्योरेंस स्कीम के तहत बैंकों में जमा 5 लाख रुपये तक की राशि का इंश्योरेंस होता है. इस वजह से बैंक के दिवालिया होने या उसका लाइसेंस रद्द होने की स्थिति में कस्टमर्स को इतनी डिपॉजिट रकम राशि डूबने का खतरा नहीं रहता है. डीआईसीजीसी, भारतीय रिजर्व बैंक की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी कंपनी है, जो बैंक जमा पर 5 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस कवर देती है Bank New Update आपको बता दें कि यदि किसी भी ग्राहक का 5 लाख तक रुपए है तो आपको घबराने वाली कोई  बात नहीं है।

Also Read:बागेश्वर महाराज से होगी जया किशोरी की शादी? धीरेंद्र शास्त्री ने बताई सच्चाई

इस बैंक में खाता जिन भी लोग का खुला हुआ है उनके लिए बड़ी अपडेट है रिजर्व बैंक ने कहा कि सेवा विकास को-ऑपरेटिव बैंक को बैंकिंग कारोबार से रोक दिया गया है. अन्य चीजों के अलावा बैंक तत्काल प्रभाव से न तो जमा स्वीकार कर सकेगा और न हीं जमा का पेमेंट कर सकेगा.

जाने कब  से बंद हो गया! सेवा विकास को-ऑपरेटिव बैंक जाने 

  • सेवा विकास को ऑपरेटिव बैंक के लाइसेंस को रद्द करने से पहले रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि रिजर्व बैंक ने सोमवार को बयान में कहा कि बैंक के पास न तो पर्याप्त पूंजी है और न ही आमदनी की संभावनाएं हैं.10 दिसंबर को कारोबारी घंटों के बाद को-ऑपरेटिव बैंक, बैंक कारोबार नहीं कर सकेगा. केंद्रीय बैंक ने कहा कि बैंक अपनी मौजूदा वित्तीय स्थिति में मौजूदा जमाकर्ताओं की पूरी राशि का भुगतान करने में सक्षम नहीं है ऐसे में इन बैंकों के ग्राहकों को भारी झटका लग गया है ऐसे में आगे क्या करना है इसकी जानकारी आगे आने वाले दिनों में पता चलेगा!
Text Example

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapninews.in द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapninews.in पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।