Placeholder canvas

Chanakya Niti: किसी महिला को संतुष्ट करने के लिए हाथी की तरह काम करें, वह पल भर में खुश हो जाएगी

Rajbala Poonia
4 Min Read
Chanakya Niti Work like an elephant to satisfy a woman

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्‍य की नीति मानव जीवन के लिए बहुत उपयोगी मानी जाती है। इसमें आचार्य चाणक्य ने मानव जीवन के कई ऐसे रहस्य बताए हैं, जिन्हें समझकर कोई भी व्यक्ति आसानी से अपना जीवन सुखी और सफल बना सकता है। नीति शास्त्र में पुरुषों से जुड़े गुणों का जिक्र करते हुए आचार्य कहते हैं कि अगर किसी पुरुष में हाथी के समान 5 गुण हैं तो उसकी पत्नी उससे हमेशा संतुष्ट रहेगी।

चाणक्य कहते हैं कि अगर किसी पुरुष में हाथी के 5 गुण हों तो उसकी पत्नी हमेशा संतुष्ट रहती है। ऐसे गुणों वाला व्यक्ति परिवार में खुशहाली बनाए रखता है और समृद्ध रहता है। तो आइए हम आपको बताते हैं कि वे कौन से गुण हैं जो एक आदमी को यह क्षमता देते हैं।

Also Read: Relationship Tips: भावनात्मक रूप से कितना सुरक्षित है आपका रिश्ता? इन कारणों से पहचानें
1. संतुष्ट रहें

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि मनुष्य को जितना हो सके उतनी मेहनत करनी चाहिए और उससे मिलने वाले धन या फल से संतुष्ट और खुश रहना चाहिए। जिस प्रकार ऊँट अपने भोजन की मात्रा से संतुष्ट रहता है। उसी प्रकार पुरुषों को भी कड़ी मेहनत से कमाए गए धन से अपने परिवार का भरण-पोषण करना चाहिए। जिन पुरुषों में यह गुण होता है वे सफलता प्राप्त करते हैं।

2. सतर्क रहें

आचार्य के अनुसार जिस प्रकार हाथी गहरी नींद में होने के बाद भी सचेत रहते हैं, उसी प्रकार मनुष्य को भी अपने परिवार, स्त्री और कर्तव्यों के प्रति सदैव सचेत रहना चाहिए। अपने परिवार और अपनी सुरक्षा के लिए दुश्मनों से हमेशा सावधान रहें। आप चाहे कितनी भी गहरी नींद में सोएं, आपके अंदर जरा सी आहट पर जागने की क्षमता होनी चाहिए। ऐसे गुणों वाला पुरुष अपनी पत्नी को हमेशा खुश रखता है।

See also
Aapni News: ऐसी महिलाओं की इच्छाएं रह जाती हैं अधूरी, फिर रात को करती है ऐसा काम
Also Read: Goat Farming Scheme: किसानों को दिया जा रहा है बकरी पालन का प्रशिक्षण, ऐसे उठाएं लाभ
3. वफ़ादारी

चाणक्य कहते हैं कि जिस तरह हाथी की वफादारी पर कोई शक नहीं कर सकता, उसी तरह आदमी को भी अपनी पत्नी और काम के प्रति हमेशा वफादार रहना चाहिए। जो पुरुष अनजान स्त्री को देखकर भी कामातुर हो जाता है, उसके घर में कलह बनी रहती है। ऐसे पुरुष के साथ स्त्री कभी खुश नहीं रहती, क्योंकि पत्नी अपने पति की वफादारी से ही खुश रहती है।

4. वीरता

आचार्य कहते हैं कि हाथी एक निडर और बहादुर प्राणी है, क्योंकि वह अपने मालिक की रक्षा के लिए अपनी जान भी गंवा सकता है। उसी तरह पुरुषों को भी साहसी होना चाहिए, जरूरत पड़ने पर अपनी पत्नी और परिवार के लिए अपनी जान जोखिम में डालने से भी पीछे नहीं हटना चाहिए।

Also Read: Loan Waiver Scheme: 33 हजार किसानों का कर्ज माफ, नई सूची जारी, देखें अपना नाम

5. संतुष्ट रहना

आचार्य चाणक्य के अनुसार पुरुष की पहली जिम्मेदारी अपनी पत्नी को हर तरह से संतुष्ट रखना है। जो पुरुष अपनी पत्नी को शारीरिक और मानसिक रूप से संतुष्ट रखता है उसकी पत्नी हमेशा खुश रहती है। ऐसा करने वाला पुरुष हमेशा अपनी पत्नी का चहेता बना रहता है।

Share This Article
Leave a comment